मुशायरा::: नॉन-स्टॉप

Monday, October 24, 2011

ग़म इतना खा जाने के बाद

अब तुम्हीं से क्या छुपाएं, सब बता जाने के बाद।
हम कहाँ भूखे रहे, ग़म इतना खा जाने के बाद।।
-ग़ाफिल
Bloggers' Meet Weekly 14 का लिंक  
http://hbfint.blogspot.com/2011/10/bloggers-meet-weekly-14-character.html

6 comments:

रविकर said...

सुन्दर प्रस्तुति |

शुभ-दीपावली ||

NEELKAMAL VAISHNAW said...

आपको धनतेरस और दीपावली की हार्दिक दिल से शुभकामनाएं
MADHUR VAANI
MITRA-MADHUR
BINDAAS_BAATEN

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

कल के चर्चा मंच पर, लिंको की है धूम।
अपने चिट्ठे के लिए, उपवन में लो घूम।।

Sunil Kumar said...

बहुत खुबसूरत, क्या बात है......

S.M.HABIB (Sanjay Mishra 'Habib') said...

बहुत सुन्दर
आपको दीप पर्व की सपरिवार सादर बधाईयाँ....

amarshiv said...

bahut hi sandar