मुशायरा::: नॉन-स्टॉप

Tuesday, June 7, 2011

इबादत में सियासत - Asad Raza

दिलों में सियासत , अदाएं सियासी
मुहब्बत भी आप तो सियासतज़दा है
सियासी इमाम व ग्रंथी , पुजारी
इबादत भी अब तो सियासतज़दा है

6 comments:

Dr. Ayaz Ahmad said...

उम्दा शेर

डा. श्याम गुप्त said...

उम्दा...---सियासत भी एक इबादत नहीं है क्या ...

शालिनी कौशिक said...

siyasat ke liye umda sher.

Vivek Jain said...

सुन्दर,
बधाई हो आपको - विवेक जैन vivj2000.blogspot.com

Tarkeshwar Giri said...

Bahut Khub

veerubhai said...

दिलों में सियासत ,अदाएं सियासी ,
मुहब्बत भी अब तो सियासत जदा है .
vaah saahab1 bahut khoob !