मुशायरा::: नॉन-स्टॉप

Friday, May 20, 2011


ज़ख़ीरा : उर्दू शायरी के शौक़ीन साहिबान के लिए एक साइट
उर्दू शायरी के शौक़ीन साहिबान के लिए आज हम एक ऐसी साइट का पता दे रहे हैं, जहां ग़ज़लों का एक बड़ा ज़ख़ीरा मौजूद है और साइट का नाम भी ज़ख़ीरा ही मौजूद है।
लीजिए एन्जॉय कीजिए यह साइट।

4 comments:

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

हम घूम आये हैं ज़नाब इस साइट पर!

AlbelaKhatri.com said...

dekhte hain abhi........

शालिनी कौशिक said...

shukriya dr.sahab .

Sadhana Vaid said...

शुक्रिया डॉ, जमाल साहेब ! यहाँ बहुत कुछ सीखने को मिलेगा !