मुशायरा::: नॉन-स्टॉप

Saturday, April 16, 2011

Mushayera की खबर आज हिंदी ब्लॉग जगत में आम है - Anwer Jamal



हिंदी ब्लॉग जगत में पहली बार एक ‘नॉन स्टॉप मुशायरे‘ का सफ़ल आयोजन किया जा रहा है और इसमें हिंदी ब्लॉग जगत की नामवर हस्तियां मंचासीन हैं। जिनमें सबसे पहले आये जनाब रूपचंदशास्त्री मयंक जी, उनके बाद शालिनी कौशिक जी तशरीफ़ लाईं और फिर जनाब कुंवर कुसुमेश जी जलवा अफ़रोज़ हुए। कवि राजेंद्र ‘तेला‘ जी भी आपको यहां मिलेंगे और ब्राह्मण पुत्री शिखा कौशिक जी भी अपनी रचनाओं के क़ीमती मोती यहां लुटा रही हैं। इन सभी के साथ यह बंदा भी आपको दिखेगा और एक ऐसा नाम भी आपको यहां दिखेगा जो पहली बार किसी साझा ब्लॉग में शामिल हुआ है। यह नाम है बहन ‘शन्नो जी‘ का। शन्नो जी फ़ेसबुक की एक मशहूर हस्ती हैं। उनकी काव्य रचनाएं अक्सर आपकी नज़र से गुज़रती रहती हैं। इसी के साथ लगातार स्थापित स्तरीय और उदीयमान, हर वर्ग के शायर और कवि रोज़ाना इस मंच पर स्थान ले रहे हैं। हरेक कवि और शायर का हम तहे-दिल से इस्तक़बाल करते हैं। 
आप भी इस ‘नॉन स्टॉप‘ मुशायरे में आमंत्रित हैं। आप अगर एक कवि या शायर हैं और आप भी इस मुशायरे में अपनी रचना पेश करना चाहते हैं तो अपनी ईमेल आईडी भेज दीजिए इस पते पर 
eshvani @gmail .com
एक सामईन अर्थात श्रोता के तौर पर तो बहरहाल आप सदा सादर आमंत्रित हैं ही। आपके सुझावों का भी स्वागत है। अगर आप अपने कमेंट के साथ कोई शेर या काव्य पंक्तियां भी दिया करें तो उससे मुशायरे में चार चांद लग जाएंगे। 
...तो जनाब तशरीफ़ लायें, आने के लिए दरवाज़ा यह रहा : http://mushayera.blogspot.com/
यह खबर आज हिंदी ब्लॉग जगत में आम है .
इसे आप निम्न लिंक्स पर देख सकते हैं 
इसके अलावा भी बहुत सी जगहों पर हो रहा है चर्चा इस मुशायरे  का , जो कि अपनी तरह का अकेला है .

0 comments: